बेकरी फैक्ट्री के चौकीदार की मिलीभगत से अंदर काम कर रहे 3 वर्करों ने 25 बोरे बिस्किट चूरा कर लिया चोरी

Ludhiana Highlights | भाई मन्ना सिंह नगर स्थित बेकरी फैक्ट्री के चौकीदार की मिलीभगत से अंदर काम कर रहे तीन वर्करों ने 25 बोरे बिस्किट चूरा चोरी कर लिया। थाना डिवीजन नंबर चार पुलिस ने उनके खिलाफ केस दर्ज करके गिरफ्तार कर लिया है। सोमवार को उन्हें अदालत में पेश किया गया, जहा से रिमाड हासिल करने के बाद कड़ी पूछताछ की जा रही है। एएसआइ सतनाम सिंह ने बताया कि आरोपितों की पहचान नेपाल के जिला कलाली के गाव गुड्डू सूरमा निवासी गोरखा तेज सिंह, उत्तर प्रदेश के जिला एटा के गाव मजदूनपुर निवासी योगेश, शिव कुमार तथा अशोक नगर

October 22, 2018

अमृतसर में हुए हादसे में सवालों के घेरे में आईं अपनी पत्‍नी के बचाव में उतर आए सिद्धू, कहा कि हादसे के लिए रेलवे जिम्‍मेदार

Ludhiana Highlights | स्थानीय निकाय मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू यहां जोड़ा फाटक के पास हादसे में 62 लाेगों के मारे जाने के मामले में पत्‍नी डॉ. नवजोत कौर सिद्धू के बचाव में खुलकर सामने आ गए हैं। सिद्धू ने कहा कि  रेलवे ट्रैक पर हुई मौतों के लिए रेलवे को जिम्मेदार है, मेरी पत्‍नी नहीं। उन्होंने कहा कि यह एक हादसा था, जो रेलवे की सतर्कता न होने की वजह से हुआ। उधर, शिरोमणि अकाली दल ने इस मामले में डाॅ. नवजोत कौर को भी दोषी ठहराया है और उनके खिलाफ केस दर्ज करने की मांग की है। पार्टी ने कहा

October 22, 2018

दुगरी इलाके में पिछले 30 सालों से 9 फ्लैटों पर नाजायज कब्जे को विधायक बैंस ने पुलिस से छुड़वाया

Ludhiana Highlights | दुगरी इलाके में ग्लाडा के 9 फ्लैटों से लुधियाना पुलिस द्वारा पिछले 30 सालों से नाजायज कब्जे को आज विधायक एवं लिप प्रमुख सिमरजीत सिंह बैंस ने छुड़वाया। फ्लैटों के असल मालिक ग्लाडा को इस जमीन का कब्जा सौंप दिया गया है। इस दौरान फ्लैटों के साथ लगते इलाका निवासियों ने बैंस को इस कार्य के लिए सम्मानित किया। विधायक बैंस ने कहा कि पुलिस की नाजायज धक्केशाही बर्दाश्त नहीं होगी, इसलिए उनको पंजाब निवासियों के साथ की जरूरत है। उन्होंने कहा कि किसी को नाजायज कब्जा नहीं करने दिया जाएगा, चाहे वह पुलिस अधिकारी क्यों न हो या

October 22, 2018

पटवारखानो में प्राइवेट स्टाफ रखने वाले पटवारियों पर होगा एक्शन

Ludhiana Highlights | पंजाब सरकार ने सभी जिलों के डीप्टी कमिशनरो को निर्देश जारी किये है के उन पटवारियों की पर एक्शन लिया जाये जिन्होंने ने पटवारखाने में प्राइवेट स्टाफ रखा हुआ है । सरकार के राजस्व विभाग ने इस बात पर सहमति जताई है के पटवारियों के साथ काम करता प्राइवेट स्टाफ ही पटवारखानो में बढ़ रहे भृष्टाचार की असली वजह है । विभाग ने स्वीकार किया है के पटवारियों के साथ काम करते प्राइवेट स्टाफ मेम्बरो को रेवेन्यू की समझ न होने के कारण वह गलतिया करते है और फिर उन्ही गलतियों को दरुस्त करने के लिए यह आम लोगो से पैसे ऐंठते है । लेकिन अगर पटवारियों की माने तो पटवार सर्कलों के मुकाबले राज्य में पटवारियों की गिनती बहुत कम है, इसलिए प्राइवेट स्टाफ रखना उनकी मजबूरी है ।



0 Shares