भाजपा ने महबूबा मुफ्ती से तोड़ा गठबंधन, भाजपा ने की राज्य में राज्यपाल शासन की मांग

Ludhiana Highlights | भाजपा ने आज जम्मू-कश्मीर की महबूबा मुफ्ती सरकार से रिश्ता तोड़ लिया है। साथ ही भाजपा ने राज्य में राज्यपाल शासन की मांग की है। भाजपा का कहना है कि राज्य की स्थिति लगातार बिगड़ रही है और महबूबा ठोस कदम नहीं उठा रही, हालांकि केंद्र ने राज्य सरकार को पूरी मदद दी। भाजपा ने सीमा पार से आतंकी गतिविधियों, पाकिस्तानी सैनिका की फायरिंग और विपक्ष के तीखे हमलों के मद्देनजर पीडीपी से अलग होने का बड़ा फसाला लिया। महबूबा मुफ्ती ने अपना इस्तीफा राज्यपाल को सौंप दिया है। इससे पहले भाजपा के मंत्रियों ने अपना इस्तीफा मुफ्ती

June 19, 2018

बेअंत सिंह मामल: गर्मायी पंजाब की सियासत, खैहरा के बाद रवनीत बिट्टू का बयान आया सामने

पंजाब की राजनिति एक बार फिर  बेअंत सिंह के हत्यारोपियों को सजा सुनाने की डैडलाइन नजदीक आते ही सुखपाल खैहरा के उस ट्वीट से गर्मा गई है, जिसमें उन्होंने बेंअत सिंह के परिवार से हत्यारोपियों को माफी देने की अपील की है और इसके लिए राजीव गांधी के हत्यारोपियों को राहुल व प्रियंका गांधी द्वारा माफी देने बारे किए गए ऐलान का हवाला दिया गया है। अपनी प्रतिक्रिया जिस मुददे पर व्यक्त करते हुए बेअंत सिंह के पोते व लुधियाना से MP रवनीत बिटटू ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है।

उन्होंने कहा कि बेअंत सिंह ने शहादत  अपने परिवार की नहीं, बल्कि पंजाब व देश में शांति का माहौल कायम करने के लिए दी है। 17 और लोग जिनके साथ  शहीद हुए थे, ऐसे में बेअंत सिंह परिवार अकेला कैसे हत्यारोपियों को माफी दे सकता है। बिटटू ने कहा कि हत्यारोपियों को जहां तक राजीव गांधी के परिवार द्वारा  माफी देने का सवाल है, उन आरोपियों ने अपनी गलती के लिए माफी मांगी है। लेकिन कभी ऐसी पहल बेअंत सिंह के हत्यारोपियों ने  नहीं की और वो तो जेल में से सुरंग बनाकर भाग गए थे।  बिटटू के मुताबिक इस समय जेल में बंद बेअंत सिंह की हत्या के आरोप में  आतंकियों को न तो देश के कानून में विश्वास नहीं है और न ही अपने किए पर कोई पछतावा है। वो आरोपी मुख्यधारा में आने की जगह साफ कहते हैं कि जब कभी भी उन्हें जेल से बाहर आने का मौका मिला तो पुराने हालात कायम करने में कोई कसर नहीं छोडेंग़े। आप के विदेशों में बैठे उन सर्मथकों के इशारे पर बिटटू ने कहा कि खैहरा ने यह मुददा  उठाया है, जो पंजाब का माहौल खराब करने के लिए फडिंग करते हैं। पंजाब में  ऐसे में अगर फिर आतंकवाद की चिंगारी सुलग गई तो कौन जिम्मेदार होगा।



140 Shares