टेंशन फ्री होकर परीक्षा दें स्टूडेंट्स, कोई समस्या हो तो इस नंबर पर करें कॉल

Ludhiana Highlights| पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड और सीबीएसई की दसवीं व बारहवीं की परीक्षाएं शुरू हो चुकी हैं। परीक्षा को लेकर बच्चे तनाव में न आएं, इसके लिए पंजाब स्टेट कमीशन फॉर प्रोटेक्शन ऑफ चाइल्ड राइट्स ने एक हेल्पलाइन नंबर शुरू किया है। इसका मकसद बच्चों को तनावमुक्त रखना और उन्हें मेहनत करने के लिए प्रेरित करना है। बता दें कि हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी मन की बात कार्यक्रम में बच्चों को परीक्षा में तनाव कम करने के उपाय बताए थे। पीएम मोदी ने छात्रों व अभिभावकों से कहा था कि वे परीक्षा को किसी उत्सव के

March 4, 2019

महाशिवरात्रि को लेकर मंदिरों में उमड़ी भक्तों की भीड़, भगवान शिव का किया जलाभिषेक

Ludhiana Highlights| महाशिवरात्रि को लेकर सोमवार को शहर के मंदिरों में तड़के से ही शिव भक्तों की भीड़ उमड़नी में शुरू हो गई है। इस दौरान खासकर महाशिवरात्रि का व्रत रखने वाले श्रद्धालुओं ने चार पहर की पूजा की शुरुआत सुबह शिव मंदिरों में जाकर की। भगवान शिव की पूजा के लिए शुभ माने जाते सोमवार के दिन इस बार महाशिवरात्रि मनाई जाने से इसका महत्त्व और भी बढ़ जाता है। मंदिर में पहुंचे श्रद्धालुओं ने जलाभिषेक कर भगवान शिव की पूजा की। शिव भक्तों ने भांग, धतूरा, बिल्व पत्र, फल, फूल व जलाभिषेक कर भगवान शिव की आराधना की। यही

March 4, 2019

गुरु नगरी में 2 हजार करोड़ के विकास कार्यों को सिद्धू ने दी हरी झंडी

Ludhiana Highlights |नगर निगम रणजीत एवेन्यू कार्यालय में स्थानीय निकाय मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू (गुरु) ने गुरु नगरी में 2 हजार करोड़ रुपए के विकास कार्यों को हरी झंडी दी। इस मौके पर मेयर कर्मजीत सिंह रिंटू, सांसद गुरजीत सिंह औजला, मंत्री ओ.पी. सोनी, विधायक राज कुमार वेरका, इंद्रवीर बुलारिया, सुनील दत्ती, सी.डिप्टी मेयर रमन बख्शी, कमिश्नर सोनाली गिरि, एडीशनल कमिश्नर कोमल मित्तल, ज्वाइंट कमिश्नर नितिश सिंगला, नगर सुधार ट्रस्ट के एस.ई. अश्विनी सेखड़ी आदि मौजूद थे। मंत्री सिद्धू ने बताया कि इसमें विश्व बैंक की सहायता से 1300 करोड़ रुपए की लागत के साथ अमृतसर शहर को पीने के लिए

March 4, 2019

इम्प्रूवमैंट ट्रस्ट ऑफिस में हुआ हंगामा, मुलाजिमों ने 5 मार्च को हड़ताल करने का ऐलान

Ludhiana Highlights|इम्प्रूवमैंट ट्रस्ट ऑफिस में शुक्रवार को उस समय जमकर हंगामा हुआ जब कुछ लोगों ने एक क्लर्क के साथ हाथापाई करते हुए गाली-गलौच शुरू कर दी। इस दुव्र्यवहार के आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर मुलाजिमों ने 5 मार्च को हड़ताल करने का ऐलान किया है। यह विवाद पक्खोवाल रोड स्थित एक फ्लैट से जुड़ा है, जिसकी फाइल काफी देर से इस एतराज के चलते लटकी है कि मौके पर गैराज की जगह में कमर्शियल गतिविधियां चल रही हैं। इस मामले में फ्लैट के मालिक द्वारा कुछ समय पहले भी क्लर्क हरप्रीत सिंह को फोन पर धमकियां दी

March 2, 2019

SBI का ग्राहकों को बड़ा तोहफा, मिन‍िमम बैलेंस चार्ज 75% तक घटा

अपने ग्राहकों को SBI ने एक बड़ा तोहफा दिया है। बैंक ने अकाउंट में न्यूनतम बैलेंस नहीं रखने की स्थिति में ली जाने वाली पेनाल्टी की राशि में 75 फीसदी तक की कटौती कर दी है। किसी भी कस्टमर को ऐसे में अब 15 रुपए से ज्यादा पेनल्टी नहीं देनी पड़ेगी। अभी तक यह अधिकतम 50 रुपए था। एक अप्रैल से बैंक कस्टमर को घटी हुई पेनल्टी का फायदा  मिलेगा। SBI. के इस फैसले से बैंक के करीब 25 करोड़ उपभोक्ताओं को फायदा होगा।

किसे कितनी राहत?
न्यूनतम बैलेंस  मेट्रो और शहरी इलाकों में नहीं रखने पर चार्ज 50 रुपए से घटाकर 15 रुपए कर दिया गया है। छोटे शहरों में चार्ज को 40 रुपए से घटाकर 12 रुपए कर दिया गया है। इसी तरह ग्रामीण इलाकों में न्यूनतम बैलेंस नहीं रखने पर अब 40 रुपए के बदले 10 रुपए ही चार्ज लगेगा। इन चार्ज में जी.एस.टी. अलग से लगेगा।

मेट्रो और शहरी  ब्रांच में (मासिक औसत बैंलेंस 3000 रु) नई पेनल्टी मौजूदा पेनल्टी
50% तक बैलेंस कम होने पर 10 रु 30 रु
50% से ज्यादा और 75% तक बैलेंस कम होने पर 12 रु 40 रु
75% से ज्यादा बैलेंस कम होने पर 15 रु 50 रु
अर्द्ध शहरी  ब्रांच में (मासिक औसत बैंलेंस 2000 रु)
50% तक बैलेंस कम होने पर 7.50 रु 20 रु
50% से ज्यादा और 75% तक बैलेंस कम होने पर 10 रु 30 रु
75% से ज्यादा बैलेंस कम होने पर 12 रु 40 रु
ग्रामीण ब्रांच में (मासिक औसत बैंलेंस 1000 रु)
50% तक बैलेंस कम होने पर 5 रु 20 रु
50% से ज्यादा और 75% तक बैलेंस कम होने पर 7.5 रु 30 रु
50% से ज्यादा और 75% तक बैलेंस कम होने पर 10 रु 40 रु

 

बचत खाते में कितनी रकम रखना जरूरी? 
आपको 3,000 रुपए का ऐवरेज बैलेंस अगर आपका बचत खाता महानगर के किसी शाखा में है तो  मेंटेन करना होगा, जो सितंबर 2017 से पहले 5,000 रुपए था। अभी शहरी इलाके की शाखाओं वाले बचत खातों में भी 3,000 रुपए का ऐवरेज बैलेंस रखना होगा जबकि कस्बाई या ग्रामीण इलाके के खातों के लिए यह रकम क्रमशः 2,000 रुपए और 1,000 रुपए तय है।

क्यों उठाया यह कदम?
बैंक के रिटेल और डिजिटल बैंकिंग के एमडी पीके गुप्ता ने कहा कि हमने ये कदम हमारे ग्राहकों की भावना और उनके फीडबैक को लेने के बाद उठाया है। उनके मुताबिक बैंक अपने ग्राहकों के हितों का ध्यान पहले रखता है।