April 27, 2018
Crime Ludhiana Punjab

कुछ इस तरह एक मैकेनिक बन गया खतरनाक आतंकवादी

Ludhiana Highlights | लुधियाना के गांव चूहड़वाल का रहने वाला मैकेनिक रमनदीप सिंह रमना आज एक खतरनाक आतंकवादी बन चुका है और नेशनल इन्वेस्टीगेशन एजेंसी की ग्रिफ्ट में है । रमनदीप पर पिछले 2 में हुयी टारगेट किल्लिंग्स में शमूलियत का दोष है ।

इसके लिए वह बाकायदा दुबई से ट्रेनिंग भी ले चुका है जहा उसने हथ्यार चलाना और रेकी करना सीखा । इस मामूली मैकेनिक के आतंकवादी बनने की कहानी बहुत रौचक है । एक सीनियर अधिकारी के अनुसार ऐ.टी.डी.सी सिलाई मशीनो का मैकेनिक लुधियाना की कई बड़ी फर्मो में काम भी कर चुका है और अच्छी खासी कमाई भी कर लेता था । अक्टूबर 2014 में गुरु ग्रन्थ साहिब की हुई बेअदबी व सिखों में हुई झड़प के कारण रमन का खून खौल उठा । नवंबर 2014 में लुधियाना की दाना मंडी में हुए रणजीत सिंह ढडरिया वाले के धार्मिक समागम में परवचनो से प्रभावित हो रमनदीप ने धरम के लिए कुछ करने की सोची और वह कट्टड़ सिख संगठनों के साथ जुड़ गया । उसे 2 नेताओं आर.डी. पुरी व अमित अरोड़ा का टारगेट मिला । रमनदीप ने दोनों की रेकी करनी शुरू कर दी । अमित अरोड़ा का काम उसे आसान लगा । अरोड़ा पर हमला करने के लिए रमनदीप ने 3 दिन तक उसका पीछा किया और रेकी की । वारदात को अंजाम देने के लिए उसने पवेलियन माल के बाहर से बाइक चोरी की । हमले के दौरान बाइक का क्लच अचानक छूट जाने की वजह से रमन का निशाना चूक गया और गोली अमित अरोड़ा के सिर में लगने की बजाए गर्दन को छूती हुई निकल गयी । इस हमले के बाद रमनदीप विदेशी ताकतों की नज़र में आ गया और उसे फेसबुक पर जगतार सिंह तूफानी नामक आई.डी से मैसेज आने लगे और उसे सिख धरम के लिए कुछ कर गुजरने के लिए प्रेरते हुए उसका माइंड वाश किया गया । जिसके बाद उसे दुबई बुलाकर उसे हथ्यारो की ट्रेनिंग दी गयी और उसे रेकी करने की ट्रेनिंग देने के लिए कई बॉलीवुड व हॉलीवुड की फिल्मे दिखाई गयी ।इसके बाद से रमन ऐसा जुर्म की दुनिया में आया के आज एक खतरनाक आतंकवादी बन कर नेशनल इन्वेस्टीगेशन एजेंसी की ग्रिफ्ट में है ।



Related Posts